अमेरिका-मेक्सिको सीमा पर लगे बोर्ड की एडिटेड तस्वीर इस्लामोफ़ोबिक संदेश के साथ वायरल

कॉपीराइट AFP 2017-2022. सर्वाधिकार सुरक्षित.
  

फ़ेसबुक और ट्विटर पर एक साइनबोर्ड की तस्वीर सैकड़ों लोगों ने शेयर की और दावा किया कि ये इस्लामोफ़ोबिक साइनबोर्ड भारत और पाकिस्तान की सीमा पर लगा है. ये दावा ग़लत है: इस तस्वीर को एडिट किया गया है; असल तस्वीर अमेरिका और मेक्सिको सीमा पर लगे साइनबोर्ड की है जिसपर अवैध हथियार तस्करी के खिलाफ़ चेतावनी दी जा रही है.

ट्विटर पर 20 जुलाई, 2021 को शेयर की गयी इस तस्वीर पर अंग्रेज़ी में लिखा है, "भारत में घुसते समय भारत-पाकिस्तान सीमा पर." 

इस तस्वीर में एक रोड साइनबोर्ड है जिसपर लिखा है, "भारतीय सीमा. आप शरिया-मुक्त इलाके में दाखिल हो रहे हैं. कृपया अपनी घड़ी को 1,400  साल आगे कर लें."

"शरिया" इस्लाम के धार्मिक कानून को बोलते हैं. 

भ्रामक पोस्ट का 28 जुलाई, 2021 को लिया गया स्क्रीनशॉट

ऐसी ही तस्वीर फ़ेसबुक पर यहां, यहां, यहां, यहां और यहां, और ट्विटर पर यहां शेयर की गयी.

ये दावा ग़लत है: तस्वीर को एडिट किया गया है.

इस तस्वीर का गूगल पर एक साथ रिवर्स इमेज और कीवर्ड सर्च करने पर हमने ऐसी ही तस्वीर न्यूज़ संगठन लैटिन डिस्पैच पर यहां मिली. इसे 15 सितम्बर, 2010 को प्रकाशित किया गया था.

लेकिन मूल तस्वीर में इस रोड साइन पर अंग्रेज़ी में लिखा, "चेतावनी: हथियार और गोला-बारूद मेक्सिको में अवैध है."

इस तस्वीर के साथ कैप्शन दिया गया है, "सैन लुई में सीमा पर मेक्सिको के अंदर हथियार लाने के खिलाफ़ चेतावनी. अमेरिकी अटॉर्नी डेनिस बुर्के का कहना है की मेक्सिको में हथियार तस्करी एक बड़ी समस्या है."

नीचे फ़र्ज़ी तस्वीर (बाएं) और ओरिजिनल तस्वीर (दाएं) के बीच तुलना देखी जा सकती है.

 

 

ओरिजिनल तस्वीर साइन लुई, एरिज़ोना में लगे एक साइनबोर्ड की है और ये जगह आप नीचे गूगल स्ट्रीट व्यू में देख सकते हैं. 

अमेरिका की फ़ैक्ट-चेकिंग वेबसाइट Snopes ने मई 2018 में ऐसी ही फ़र्ज़ी तस्वीरों की यहां पड़ताल की थी.