पेट्रोल पंप में आग लगाने का ये वीडियो भारत नहीं ईरान का है

कॉपीराइट AFP 2017-2022. सर्वाधिकार सुरक्षित.
  

फ़ेसबुक और यूट्यूब पर एक वीडियो वायरल है जिसमे दवा किया जा रहा है कि हरियाणा में एक व्यक्ति ने तेल के बढ़ते दामों से तंग आकर पेट्रोल पंप में आग लगा दी. ये दावा ग़लत है: ये वीडियो में ईरान का है. 

भ्रामक दावे वाला ये वीडियो फ़ेसबुक पर यहां  जून 29, 2021, को शेयर किया गया था. 

हिंदी में इस पोस्ट का कैप्शन लिखा गया, "हरयाणा में एक शख्स ने पेट्रोल पंप पे लगा दी आग. जी हां पेट्रोल के बढ़ते दाम को लेकर ये सख्स हो गया गुस्सा और इसी गुस्से में इसने इरादा किया के वो पेट्रोल पंप को जला देगा मगर वह रहते हुए कर्मचारियों ने इस आग को फैलने से बचा लिए इस हादसे ने वहा के लोगो को डरा के रख दिया है."

( Uzair RIZVI)

ये वीडियो ऐसे वक़्त में शेयर की गयी जब देश के कई हिस्सों में पेट्रोल के दाम रिकॉर्ड उछाल पर हैं. हाल ही में द इंडियन एक्सप्रेस ने देश के विभिन्न शहरों में पेट्रोल के आसमान छूते भाव पर रिपोर्ट प्रकाशित की. 

पेट्रोल पंप में आग लगाने की यह वीडियो इसी दावे के साथ फ़ेसबुक पर यहां और यहां, और यूट्यूब पर यहां और यहां शेयर किया गया. 

लेकिन यह वायरल वीडियो भारत नहीं बल्कि ईरान का है.

इस वीडियो के फ्रेम्स का रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें ये ईरान की वेबसाइट पर यहां और यहां मिला जिसे जून 2021 में अपलोड किया गया था.  

इसके साथ हेडलाइन है, "एक मोटरसाइकिल वाले की अजीब हरकतों के कारण गैस स्टेशन पर दुर्घटना हो गयी."

नीचे भ्रामक पोस्ट (बाएं) और ईरानी वेबसाइट पर मिले विज़ुअल (दाएं) की तुलना देख सकते हैं. 

भ्रामक पोस्ट और न्यूज़ रिपोर्ट के स्क्रीनशॉट की तुलना ( Uzair RIZVI)

फ़ारसी न्यूज़ एजेंसी यंग जर्नलिस्ट क्लब ने इस घटना के बारे में जुलाई 26, 2021, को यहां  रिपोर्ट किया था. 

इस रिपोर्ट में बताई गयी ज़रूरी बात का हिंदी अनुवाद है, "रफ़संजान पुलिस कमांड के हेड कर्नल अरमोन ने कहा: 10 जून की सुबह एक मोटर साइकिल वाले ने रफ़संजान में एक गैस स्टेशन में आग लगा दी और भाग गया." 

रफ़संजान ईरान के कर्मन प्रान्त में बसा शहर है.

न्यूज़ रिपोर्ट में छपी तस्वीर का स्क्रीनशॉट आप नीचे देख सकते हैं.

न्यूज़ रिपोर्ट का स्क्रीनशॉट ( Uzair RIZVI)

इसके बारे में गूगल कीवर्ड सर्च करने पर ईरानी न्यूज़ आउटलेट्स में जून 2021 की प्रकाशित रिपोर्ट्स यहां और यहां मिलीं.  

रफ़संजान की इस घटना के बारे में ईरानी न्यूज़ एजेंसी IRNA ने जून 26, 2021, को यहां रिपोर्ट किया था.

AFP ने पेट्रोल स्टेशन पर दिख रहे प्रतिक चिन्ह और ईरान के रफ़संजान में बने पेट्रोल स्टेशन के प्रतिक चिन्ह की तुलना की है. रफ़संजान के पेट्रोल स्टेशन का प्रतिक चिन्ह गूगल मानचित्र से प्राप्त हुआ.

नीचे भ्रामक वीडियो में दिख रहे फ़्यूल डिस्पेन्सर पर छपे लोगो (बाएं) और गूगल इमेज में  ईरान में स्थित एक फ़्यूल स्टेशन पर बने लोगो (दाएं) में समानता देखी जा सकती हैं.

भ्रामक पोस्ट और गूगल पर दिख रहे गैस स्टेशन के लोगो की तुलना

तेहरान में कार्यरत AFP पत्रकार ने ये बात स्पष्ट की कि गैस स्टेशन पर बना प्रतिक चिन्ह नेशनल ईरानियन गैस कंपनी का है.