हवाई अड्डे पर चेकिंग के दौरान नग्न व्यक्ति की पुरानी तस्वीर भ्रामक दावे से वायरल

कॉपीराइट AFP 2017-2022. सर्वाधिकार सुरक्षित.

सोशल मीडिया पर पाकिस्तान के सांसद शहरयार खान अफरीदी की एक तस्वीर इस दावे के साथ वायरल हुई कि अमेरिकी हवाई अड्डे पर सुरक्षा जांच के दौरान उन्हें निर्वस्त्र कराया गया. ये दावा भ्रामक है: असली तस्वीर 2012 की है जब एयरपोर्ट के सुरक्षा अधिकारिओं का विरोध करते एक अमीरीकी नागरिक ने अपने कपड़े उतारे थे. पुरानी तस्वीर पर अफरीदी का चेहरा फोटोशॉप कर जोड़ा गया है. 

23 सितंबर को किये गए एक फ़ेसबुक पोस्ट में तस्वीर के ऊपर हिंदी में टेक्स्ट लिखा है, "ट्रम्प तो दुश्मन था, बाइडन तो दोस्त है...मगर वो दोस्त होकर भी पाकिस्तान को नंगा करने में नहीं हिचक रहा..अब पाकिस्तान के कैबिनेट मंत्री शहरयार अफरीदी को नंगा करके 2 घंटे तक इंटरव्यू करवाया दिया. वैसे यही एक काम है जो अमेरिका पूरी ईमानदारी से करता है.”

वायरल पोस्ट में कश्मीर पर पाकिस्तान की संसदीय समिति के अध्यक्ष शहरयार अफरीदी की एक तस्वीर के साथ एक नग्न व्यक्ति की तस्वीर दिखाई गई है. 

वायरल तस्वीरों के कोलाज के ऊपर पश्तो भाषा में लिखा है, "अमेरिकी हवाई अड्डे पर एक पाकिस्तानी मंत्री के कपड़े उतारे गए.” 

भ्रामक फ़ेसबुक पोस्ट का स्क्रीनशॉट

यह पोस्ट उन रिपोर्ट्स के बाद वायरल हुई जिनमें कहा गया था कि अफरीदी को सितंबर में न्यूयॉर्क के JFK हवाई अड्डे पर अतिरिक्त जाँच के लिये रोका गया था. 

इन एडिटेड तस्वीरों को इसी तरह के फ़ेसबुक पोस्ट में यहां और यहां शेयर किया गया था.

हालांकि, ये दावा ग़लत है.

वायरल कोलॉज में बाईं ओर दिख रही तस्वीर शहरयार अफरीदी की वास्तविक तस्वीर है जबकि दाईं ओर की तस्वीर को एडिट कर उनका चेहरा लगाया गया है.

मूल तस्वीर एसोसिएटेड प्रेस (AP) समाचार एजेंसी द्वारा 2012 में प्रकाशित की गई थी. 

एसोसिएटेड प्रेस के फोटो कैप्शन के अनुसार, यह तस्वीर 17 अप्रैल, 2012 को पोर्टलैंड अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर ली गई थी और इसमें जॉन ई. ब्रेनन नाम का एक व्यक्ति नग्न खड़ा था, जब वह एयरपोर्ट की सुरक्षा जाँच से गुज़रते वक़्त पप्रक्रियाओं का विरोध करते हुए अपने कपड़े उतार दिए थे. 

नीचे बाईं तरफ़ एडिटेड तस्वीर और दाईं तरफ़ मूल तस्वीर जिसमें नग्न व्यक्ति खड़ा है, उसके बीच स्क्रीनशॉट की एक तुलना है.

चेतावनी

तुलना के लिए भ्रामक तस्वीर का स्क्रीनशॉट (बाएं) और एसोसिएटेड प्रेस द्वारा ली गयी मूल तस्वीर (दाएं)


सितंबर में JFK हवाईअड्डे पर अफरीदी की अतिरिक्त चेकिंग  के बारे में समाचार रिपोर्टों में यह स्पष्ट रूप से नहीं कहा गया था कि चेकिंग के दौरान उनके सारे कपड़े उतारे गये थे. रिपोर्ट यहां और यहां देखें.

अफरीदी ने 19 सितंबर को एक ट्वीट अपने बारे में इस फ़र्ज़ी खबर की आलोचना की थी.

उन्होंने उर्दू में लिखा था, "मैं दुनिया के सामने युद्ध अपराधों को बेनकाब करने के लिए कश्मीर मामले और अवैध रूप से क़ब्ज़े वाली भारतीय सेना द्वारा कश्मीरियों के नरसंहार से लड़ने के लिए न्यूयॉर्क पहुंचा, लेकिन मुझे दुख हुआ कि मेरी मातृभूमि में भारत समर्थक लॉबी मेरे ख़िलाफ़ फर्जी ख़बरें फैलाने में व्यस्त है.”