यूएन जनरल असेंबली में होती चर्चा ( AFP / TIMOTHY A. CLARY)

भारत पहली बार नहीं कर रहा संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् की अध्यक्षता, ग़लत दावा वायरल

कॉपीराइट AFP 2017-2022. सर्वाधिकार सुरक्षित.
 

फ़ेसबुक पर एक दावा लगातार वायरल हो रहा है कि भारत 2021 में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् की "पहली बार" अध्यक्षता करने जा रहा है. ये दावा ग़लत है: सभी देशों को बारी-बारी से अध्यक्षता का मौका मिलता है और भारत को ये मौका 1950 से अब तक कई बार मिल चुका है.

2 अगस्त को किये गए इस फ़ेसबुक पोस्ट में लिखा गया, "स्वतंत्र भारत के 75 साल के इतिहास में पहली बार, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की अध्यक्षता करेगा भारत. जय हिंद."

10 अगस्त, 2021 को लिया गया भ्रामक पोस्ट का स्क्रीनशॉट ( Uzair RIZVI)

बता दें कि भारत अगस्त 2021 में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की अध्यक्षता करने जा रहा है, और इसके बारे में रिपोर्ट्स आने के बाद ये भ्रामक दावा शेयर किया जाने लगा. 

यही दावा फ़ेसबुक पर यहां और यहां शेयर किया गया. 

लेकिन ये पूरी तरह ग़लत है.

1950 से लेकर अबतक भारत कम-से-कम 9 बार यूएनएससी की अध्यक्षता कर चुका है. ये मौके हैं: जून 1950, सितम्बर 1967, दिसंबर 1972,  अक्टूबर 1977, फरवरी 1985, अक्टूबर 1991, दिसंबर 1992, अगस्त 2011 और नवंबर 2012.

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) की वेबसाइट पर बताया गया है, "UNSC की अध्यक्षता सदस्य के नाम में अंग्रेज़ी अक्षरों के क्रम मुताबिक एक महीने के लिए सौंपी जाती है."

संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी मिशन ने एक रिपोर्ट जारी किया था जिसके मुताबिक भारत को 1950 से अब तक संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की 8 बार ग़ैर-स्थायी सदस्यता मिल चुकी है. 

इसी रिपोर्ट में आगे बताया गया है कि अगस्त 2021 से पहले भारत ने नवंबर 2012 में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की अध्यक्षता की थी. 

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत की अध्यक्षता पर कई न्यूज़ रिपोर्ट्स मौजूद हैं, जैसे यहां और यहां