अयोध्या नहीं, ये नई दिल्ली रेलवे स्टेशन नवीकरण का काल्पनिक ग्राफ़िक है

कॉपीराइट AFP 2017-2022. सर्वाधिकार सुरक्षित.

एक तस्वीर सैकड़ों बार शेयर करते हुए दावा किया गया कि ये अयोध्या में बनने वाले रेलवे स्टेशन की तस्वीर है. ये दावा ग़लत है: ये तस्वीर कम से कम 2009 से ही इंटरनेट पर शेयर हो रही है जो कि नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के नवीकरण का डिज़ाइन है.

ये तस्वीर 20 सितम्बर को फ़ेसबुक पर यहां शेयर की गयी थी.

पोस्ट का कैप्शन कहता है, “लंदन नही है अयोध्या जी मे रेलवे स्टेशन का नजारा है.”

भ्रामक फेसबुक पोस्ट का स्क्रीनशॉट

यही दावा फ़ेसबुक पर यहां और यहां; ट्विटर पर यहां किया गया.

वहीं कुछ लोगों ने कहा कि ये अयोध्या रेलवे स्टेशन का मॉडल है. ये दावा फ़ेसबुक पर यहां, यहां और यहां; और ट्विटर पर यहां किया गया.

लेकिन ये दावे पूरी तरह ग़लत हैं. 

इस तस्वीर का यांडेक्स पर रिवर्स इमेज सर्च करने पर हिंदुस्तान अख़बार की 17 फ़रवरी, 2020 की एक रिपोर्ट मिलती है जिसमें हूबहू यही तस्वीर छपी है.

इस रिपोर्ट में नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के नवीकरण के बारे में बताया गया है. इसकी हेडलाइन है, “नई दिल्ली रेलवे स्टेशन का होगा कायाकल्प, एयरपोर्ट की तर्ज पर आगमन और प्रस्थान की सुविधा.” 

नीचे भ्रामक पोस्ट (बाएं) और हिंदुस्तान की रिपोर्ट में छपी तस्वीर (दाएं) की तुलना देख सकते हैं:

भ्रामक पोस्ट और हिंदुस्तान में छपी तस्वीर की तुलना

नवीकरण योजना 

इस बाबत कीवर्ड सर्च करने पर रेल मंत्रालय द्वारा अपलोड किया गया एक दस्तावेज़ मिला जिसमें यही तस्वीर छपी है.

इस दस्तावेज़ का टाइटल है, “इंडियन रेलवेज़ विज़न 2020.”

इसमें रेल मंत्रालय द्वारा मुंबई और दिल्ली के कई रेलवे स्टेशन के पुनर्निर्माण की विस्तृत जानकारी दी गयी है.

अधिकारियों ने बताया था कि नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के लिए करीब 14,000 करोड़ की लागत वाली ये नवीकरण परियोजना 2022 में शुरू की जाएगी.

ये तस्वीर असल में ग्राफ़िक डिज़ाइन है 

इस बारे में आगे सर्च करने पर यही तस्वीर ब्रिटिश एडवाइजरी और प्लानिंग कंपनी Arup की वेबसाइट पर मिली.

Arup ने 30 सितम्बर, 2021 को AFP से बताया कि ये तस्वीर नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के नवीकरण के लिए बनाये डिज़ाइन की ही है लेकिन अब ये इस परियोजना में शमिल नहीं है.

नीचे भ्रामक पोस्ट (बाएं) और Arup (दाएं) की वेबसाइट पर मिली तस्वीर की तुलना दिखाई गयी है:

भ्रामक पोस्ट और Arup द्वारा छापी गयी तस्वीर की तुलना

अयोध्या रेलवे स्टेशन 

हिंदुस्तान टाइम्स की 13 अगस्त, 2021 की एक रिपोर्ट के मुताबिक अयोध्या रेलवे स्टेशन को 2022 तक बनाने का लक्ष्य रखा गया है.

नीचे लगा वीडियो रेल मंत्रालय के आधिकारिक यूट्यूब अकाउंट से अपलोड किया गया था जिसमें अयोध्या रेलवे स्टेशन के निर्माण को ग्राफ़िक विज़ुअल में दिखाया गया है. इसे 5 अगस्त, 2020 को अपलोड किया गया था.