ये तस्वीर बांग्लादेश में मुस्लिमों को मस्जिद के बाहर नमाज़ अदा करते दिखाती है

कॉपीराइट AFP 2017-2022. सर्वाधिकार सुरक्षित.

ट्विटर और फ़ेसबुक पर एक तस्वीर इस दावे के साथ वायरल है कि ये मुस्लिम समुदाय के लोगों को भारत के किसी रास्ते के बीचो बीच नमाज़ अदा करते दिखाती है. ये तस्वीर गुडगाँव में नमाज़ रोकने की वजह से हिंदू चरमपंथ से जुड़े दर्जनों लोगों की गिरफ्तारी के बाद से सोशल मीडिया पर शयेर की जा रही है. लेकिन, ये दावा ग़लत है: मस्जिद के बाहर सड़क पर नमाज़ अदा कर रहे मुस्लिमों की ये तस्वीर बांग्लादेश की है न कि भारत से.

ये तस्वीर 11 नवंबर, 2021, को फ़ेसबुक पर यहां शेयर की गई थी.

तस्वीर के साथ कैप्शन में लिखा है: “यह दृश्य केवल आपको भारत मे दिखाई देता है. बाकी 56 मुश्लिम देशों में ऐसा करे तो जेल में डाल दिया जाता है, यह केवल टेस्टिंग है कब्जा करने की, धैर्य की, ताकि कितना दबाया जा सकता है.”

अक्टूबर के आख़िरी में कुछ हिन्दू चरमपंथी समूहों के लोगों को गुड़गाँव (हरयाणा) में मुस्लिमों को खुले में नमाज़ अदा करने से रोकने की वजह से गिरफ्तार किया गया था. 

कई हिन्दू चरमपंथी समूह लगातार पुलिस पर दबाव बना रहे थे कि मुस्लिमों को खुले में नमाज़ अदा करने से रोका जाये. ये तस्वीर इसी घटना के बाद सोशल मीडिया पर वायरल है.

भ्रामक पोस्ट का स्क्रीनशॉट

गिरफ्तारियों के संबंध में AFP की रिपोर्ट यहां है.

फ़ेसबुक पर ये तस्वीर इसी दावे के साथ यहां और यहां और साथ ही ट्विटर पर यहां शेयर की गई है.

हालांकि ये दावा ग़लत है, ये तस्वीर बांग्लादेश की है.

कीवर्ड सर्च और रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें यूरोपियन प्रेस एजेंसी (EPA) की 30 अप्रैल, 2021, की एक रिपोर्ट में बिल्कुल यही तस्वीर मिली. ये तस्वीर बिल्कुल उसी मस्जिद के बाहर नमाज़ अदा कर रहे लोगों की है. एजेंसी की वेबसाइट पर यहां ये तस्वीर देखी जा सकती है.

तस्वीर के साथ लिखे कैप्शन के मुताबिक़: “ढाका, बांग्लादेश में 30 अप्रैल 2021 को लॅाकडाउन के बीच सोभनबाग मस्जिद के बाहर रमज़ान के पवित्र महीने के दौरान मुसलमान शुक्रवार की प्रार्थना में शामिल होते हैं. बांग्लादेशी अधिकारियों ने बढ़ते COVID-19 संक्रमण के बीच देशव्यापी लॅाकडाउन को एक सप्ताह के लिए और बढ़ा दिया. EPA-EFE/मोनिरुल आलम".

यूरोपियन प्रेस एजेंसी की तस्वीर का स्क्रीनशॉट ( Uzair RIZVI)

वायरल तस्वीर और यूरोपियन एजेंसी की गूगल स्ट्रीट व्यू लोकेशन यहां देखी जा सकती है. लोकेशन के मुताबिक़ ये जगह बांग्लादेश की राजधानी ढाका में सोभनबाग मस्जिद है.

नीचे वायरल तस्वीर (बायें), यूरोपियन एजेंसी की तस्वीर (बीच में) और सोभनबाग मस्जिद ढाका का गूगल स्ट्रीट व्यू (दायें) के बीच तुलना देखी जा सकती है.

वायरल तस्वीर (बायें), यूरोपियन एजेंसी की तस्वीर (बीच में) और सोभनबाग मस्जिद ढाका का गूगल स्ट्रीट व्यू (दायें) के बीच तुलना
( Uzair RIZVI)