बुर्ज ख़लीफ़ा के ऊपर बाइक स्टंट कर रहे ऋतिक रोशन का ये वीडियो असली नहीं है

कॉपीराइट AFP 2017-2022. सर्वाधिकार सुरक्षित.

सोशल मीडिया पर एक वीडियो को हज़ारों बार देखा जा चुका है जिसे शेयर कर ये दावा किया जा रहा है कि बॉलीवुड अभिनेता ऋतिक रोशन ने माउंटेन ड्यू के लिये अपने हालिया विज्ञापन के वीडियो में दुबई की बुर्ज ख़लीफ़ा इमारत के ऊपर एक ख़तरनाक रियल बाइक स्टंट किया है. हालांकि विज्ञापन बनाने वाली टीम ने AFP को बताया कि ये एक्शन वीडियो डिजिटल तकनीक की मदद से बनाया गया है ये असली में स्टंट नहीं है.

ये वीडियो यूट्यूब पर 23 दिसंबर को यहां शेयर किया गया है. 

इस वीडियो में ऋतिक रोशन माउंटेन ड्यू नाम की कोल्ड ड्रिंक का विज्ञापन कर रहे हैं. 

विज्ञापन में ऋतिक रोशन दुनिया की सबसे ऊँची इमामत बुर्ज ख़लीफ़ा की सबसे ऊपरी मंज़िल से एक ख़तरनाक बाइक स्टंट करके सबसे नीचे ग्राउंड में उतरते हैं जहां लोगों की भीड़ तालियां बजा रही होती है. 

यूट्यूब वीडियो के कैप्शन में लिखा है: "ऋतिक रोशन का ये स्टंट जानलेवा था."

वीडियो के ऊपर टेक्स्ट में लिखा है: "बुर्ज ख़लीफ़ा के ऊपर से ऋतिक रोशन ने किया ये ख़तरनाक स्टंट."

भ्रामक पोस्ट का स्क्रीनशॉट

बिल्कुल इसी दावे के साथ ये वीडियो फ़ेसबुक पर यहां, यहां और यहां साथ ही यूट्यूब पर यहां और यहां शेयर किया गया है.

सोशल मीडिया पर कुछ  यूजर्स का मानना है कि वायरल वीडियो में ऋतिक रोशन को असलियत में बाइक स्टंट परफॉर्म करते हुए दिखाया गया है.

एक यूजर ने कमेंट किया, "यह बहुत खतरनाक स्टंट था, इसलिए ऋतिक रोशन सुपरस्टार हैं." एक अन्य यूजर ने लिखा, "ऋतिक द्वारा शानदार स्टंट."

हालांकि ये पोस्ट भ्रामक है.

ये वायरल वीडियो दरअसल माउंटेन ड्यू के विज्ञापन का है जिसे 20 दिसंबर को ट्विटर पर यहां पोस्ट किया गया था.

वीडियो में स्पष्ट शब्दों में एक डिस्क्लेमर यानी अस्वीकरण लिखा है कि: "यहां दिखाये गये स्टंट डिजिटल तकनीक की मदद से बनाये गये हैं कृपया नक़ल करने की कोशिश न करें."

AFP द्वारा हाइलाइट किए गए अस्वीकरण के साथ विज्ञापन का स्क्रीनशॉट

नीचे भ्रामक पोस्ट के वीडियो (बायें) और माउंटेन ड्यू के ट्विटर अकाउंट के वीडियो (दायें) के स्क्रीनशॉट के बीच एक तुलना है. 

माउंटेन ड्यू का उत्पादन करने वाली कंपनी पेप्सिको की उपभोक्ता मामलों की मैनेजर सिमी मेहता ने AFP  को बताया कि वायरल पोस्ट के साथ किया जा रहा दावा ग़लत है. 

मेहता ने कहा: "विज्ञापन का ये वीडियो डिजिटल तकनीक की मदद से बनाया गया है हालांकि हमारी टीम बुर्ज ख़लीफ़ा बिल्डिंग में गई थी और हमने विडियो में कुछ शॉट वहां से भी दिखाये हैं, लेकिन हमने वीडियो में ये स्पष्ट रूप से लिखा है कि इस वीडियो को डिजिटल तकनीक की मदद से बनाया गया है."