ये न्यूज़ ग्राफ़िक फ़र्ज़ी है, चुनाव आयोग ने दोबारा मतदान करवाने की कोई घोषणा नहीं की

कॉपीराइट AFP 2017-2022. सर्वाधिकार सुरक्षित.

फ़ेसबुक पर कई दिनों से एक न्यूज़ ग्राफ़िक शेयर किया जा रहा है जिसमें लिखा हुआ है कि हाल में पांच राज्यों में चुनाव के परिणाम घोषित होने के बाद अब 142 सीटों पर दोबारा चुनाव होंगे. इसकी वजह EVM में गड़बड़ी बताई गयी है. लेकिन ये ग्राफ़िक फ़र्ज़ी है: चुनाव आयोग के प्रवक्ता ने AFP को बताया कि ये दावा बेबुनियाद है और ऐसी कोई घोषणा नहीं की गयी है.

ये ग्राफ़िक फ़ेसबुक पर 13 मार्च, 2022 को यहां शेयर किया गया. साथ में लिखा गया, "142 सीटो पर फिर से होंगे चुनाव."

ग्राफ़िक में एक न्यूज़ एंकर की तस्वीर है और बगल में टेक्स्ट लिखा है, "142 सीटों पर फिर होंगे चुनाव."

ग्राफ़िक पर ये भी लिखा है कि, "छिन सकती है योगी से मुख्यमंत्री की कुर्सी" और "चुनाव आयोग ने कबूला EVM बदले जाने की बात."

बता दें कि 10 मार्च को देश के पांच राज्यों में हुए चुनाव के नतीजे आये थे. उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार भारी मतों से सत्ता में लौटी थी.

23 मार्च को लिया गया भ्रामक पोस्ट का स्क्रीनशॉट

यही ग्राफ़िक फ़ेसबुक पर यहां, यहां और नेशन टीवी नाम के पेज ने अपने वीडियो के थंबनेल में यहां शेयर किया गया.

लेकिन ये दावा पूरी तरह फ़र्ज़ी है.

हमें ऐसी कोई रिपोर्ट या चुनाव आयोग की घोषणा नहीं मिली जिसमें 142 सीटों पर दोबारा चुनाव करवाने की बात की गयी हो.

ग्राफ़िक पर न्यूज़24 के ऐंकर संदीप चौधरी की तस्वीर लगी है. AFP ने न्यूज़24 चैनल से संपर्क किया तो चैनल के एक प्रवक्ता ने इस दावे और ग्राफ़िक को फ़र्ज़ी बताया. 

AFP में चुनाव आयोग के मीडिया विभाग के संयुक्त निदेशक अनुज चंदक से भी बात की.

उन्होंने कहा, "ये न्यूज़ बिल्कुल फ़र्ज़ी है. चुनाव आयोग ने ऐसी कोई घोषणा नहीं की है." 

सरकार के मीडिया विभाग के फ़ैक्ट-चेकिंग हैंडल PIB फ़ैक्ट-चेक ने भी इस दावे को फ़र्ज़ी बताया और लिखा, "एक फर्जी तस्वीर के माध्यम से यह दावा किया जा रहा है कि #EVM बदले जाने के कारण 142 सीटों पर फिर से चुनाव होंगे #PIBFactCheck. ईवीएम बदले जाने का दावा फर्जी है. @ECISVEEP द्वारा 142 सीटों पर फिर से मतदान कराने की घोषणा नहीं की गई है."

जहां तक बात EVM मशीन में गड़बड़ी की है, चुनाव आयोग ने EVM मशीनों की चोरी के मामले में तीन अधिकारियों को निलंबित किया था.