रसोई गैस की कीमतों पर संबित पात्रा के बयान के दावे से वायरल तस्वीर एडिटेड है

कॉपीराइट AFP 2017-2022. सर्वाधिकार सुरक्षित.

देश में जैसे ही रसोई गैस की कीमतों में वृद्धि हुई, सोशल मीडिया पर एक तस्वीर को हज़ारों बार इस दावे के साथ शेयर किया गया कि भारतीय जनता पार्टी प्रवक्ता संबित पात्रा ने रसोई गैस की बढ़ती कीमतों पर एक विवादित बयान दिया है. हालांकि ये तस्वीर, जिसमें उनकी कथित टिप्पणी थी, एक मीम जेनरेटर वेबसाइट का उपयोग करके बनाई गई थी;  AFP को ऐसी कोई आधिकारिक रिपोर्ट नहीं मिली जिसमें संबित पात्रा ने ऐसी टिप्पणी की हो.

तस्वीर को फ़ेसबुक पर 11 जुलाई को शेयर किया गया है जिसके कैप्शन में लिखा है, “पात्रा साहब बोले है तो सही ही बोला होगा.

वायरल पोस्ट में संबित पात्रा की तस्वीर के साथ लिखा है, “सिर्फ गैस मंहगा हुआ है सिलेंडर नहीं: संदीप पात्रा.”

हज़ार से अधिक बार शेयर की गयी तस्वीर को सोशल मीडिया पर एक ब्रेकिंग न्यूज़ बुलेटिन के तौर पर दिखाया गया है. संबित पात्रा की तस्वीर के साथ इसमें एक बयान है जिसे 'संदीप पात्रा' को एट्रीब्यूट किया गया है.

आपको बता दें कि इस तस्वीर में किसी भी समाचार चैनल का लोगो या नाम नहीं है.

गलत दावे से शेयर की जा रही पोस्ट का स्क्रीनशॉट, 15 जुलाई 2022.

इस तस्वीर को इसी दावे के साथ लगभग 2000 बार से अधिक फ़ेसबुक पर यहां, यहां और ट्विटर पर यहां शेयर किया गया है. 

पोस्ट पर किये गये कमेंट्स पढ़ कर पता चलता है कि कई सोशल मीडिया यूज़र्स का मानना था कि ये तस्वीर किसी वास्तविक समाचार रिपोर्ट की है, और पात्रा ने सही में ऐसा कोई बयान दिया है. 

एक यूज़र ने लिखा: "यह आदमी जब भी मुंह खोलता है तो कुछ गंदी बात कहता है, आखिर ये अपने दिमाग का इस्तेमाल क्यों नहीं करता?"

एक अन्य ने लिखा: "यह सरकार केवल गरीबों का खून चूसने के लिए है, क्या गरीब आदमी को इतनी महंगाई में खाना भी नहीं खाना चाहिए."

वास्तव में, ये तस्वीर एक मीम जेनरेटर के टेम्पलेट से बनाई गई है  जिसे ‘ब्रेक योर ओन न्यूज’ कहा जाता है.

एडिटेड तस्वीर

इस वेबसाइट के अनुसार, ‘ब्रेक योर ओन न्यूज़’ अपने उपयोगकर्ताओं को इसके टेंम्पलेट में तस्वीरें जोड़ने और हेडलाइंस लिखने की अनुमति देता है ताकि इससे ऐसी तस्वीरें बनाई जा सकें जो ब्रेकिंग न्यूज़ रिपोर्ट की तरह दिखती हों.

वेबसाइट के अनुसार, “यह एप मज़ाक, हास्य और पैरोडी के लिये बनाया गया है.”

पोस्ट में दिखाई गई एडिटेड तस्वीर में संबित पात्रा की एक तस्वीर का भी इस्तेमाल किया गया है जो पहले यहां और यहां समाचार रिपोर्टों में प्रकाशित हो चुकी है. 

नीचे एक भ्रामक पोस्ट (बाएं) और मीम जेनरेटर टेम्प्लेट (दाएं) की तस्वीरों की एक तुलना मिलती जुलती समानताओं के साथ AFP द्वारा हाइलाइट की गई है. 

पोस्ट पर प्रतिक्रिया देते हुए संबित पात्रा ने AFP को ईमेल के ज़रिये बताया, "मेरी तस्वीर का इस्तेमाल करके यह फ़र्जी ख़बर फैलाई जा रही है. मैंने ऐसा कुछ नहीं कहा है. इस तस्वीर को सोशल मीडिया पर गलत तरीके से शेयर किया गया जा रहा है."