कन्सेर्वटिव सांसद और ब्रिटेन के पूर्व वित्त मंत्री ऋषि सुनक 16 जुलाई, 2022 को उत्तर पूर्व इंग्लैंड में रेडकार के टीसाइड फ्रीपोर्ट में दौरे पर कार्यकर्ताओं और समर्थकों से बात करते हुए. ( AFP / OLI SCARFF)

ऋषि सुनक अभी नहीं बने हैं यूके के पीएम, सोशल मीडिया पर फ़र्ज़ी ख़बर वायरल

कॉपीराइट AFP 2017-2022. सर्वाधिकार सुरक्षित.

सोशल मीडिया पर एक ख़बर वायरल है कि भारतीय मूल के ऋषि सुनक यूके के नए प्रधानमंत्री बन चुके हैं. यह दावा फ़र्ज़ी है: प्रधानमंत्री के चुनाव की प्रक्रिया अभी जारी है जिसमें ऋषि सुनक भी दौड़ में आगे चल रहे हैं. जानकारी के मुताबिक बोरिस जॉनसन की जगह लेने वाले नए प्रधानमंत्री के चुनाव का फ़ैसला 5 सितम्बर या उसके बाद ही आएगा. 

ये भ्रामक दावा फ़ेसबुक पर 15 जुलाई को यहां शेयर किया गया.

कैप्शन में लिखा गया, “भारतीय मूल के ऋषि सुनक जी को ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बनने पर हार्दिक बधाई.”

UK के पूर्व वित्त मंत्री ऋषि सुनक हिन्दू धर्म को मानने वाले हैं. सुनक अक्षता मूर्ति के पति हैं जो भारतीय उद्यमी और  इन्फ़ॉर्मेशन-टेक्नोलॉजी की जानी-मानी कंपनी Infosys के संस्थापक एन.आर. नारायणमूर्ति की बेटी हैं.

भ्रामक पोस्ट का 2 अगस्त, 2022 को लिया गया स्क्रीनशॉट

संसद में 48 घंटों तक चले उठापटक के बाद दर्जनों नेताओं ने विवादों से घिरी उनकी सरकार से समर्थन वापस ले लिया था. इसके बाद 7 जुलाई को जॉनसन को अपने पद से इस्तीफ़ा देना पड़ा था. इसी के बाद से ये दावे लगातार शेयर किये जा रहे हैं. 

प्रधानमंत्री चुनाव की प्रक्रिया जारी है और इस पर AFP की रिपोर्ट यहां पढ़ सकते हैं.

ऋषि सुनक की प्रतिद्वंदी विदेश मंत्री लिज़ ट्रूस हैं और दोनों के बीच कड़ा घमासान जारी है.

ये दावा फ़ेसबुक पर यहां, यहां और यहां शेयर किया गया.

इस पोस्ट पर किए गए कमेंट से भी पता चलता है कि यूज़र्स ने इसे सच मान लिया. 

एक यूज़र ने कहा, “हम भारतीयों के लिए गर्व की बात है!”

वहीं एक अन्य ने लिखा, “भारत का झंडा हर जगह बुलंद रहेगा.”

लेकिन कन्सेर्वटिव पार्टी 5 सितंबर से पहले नए प्रधानमंत्री की घोषणा नहीं करने वाली है इसलिए अभी अटकलें जारी हैं. 

क्वीन एलिज़ाबेथ द्वारा नए राष्ट्रपति नियुक्त किये जाने तक बोरिस जॉनसन ही यूके के प्रधानमंत्री रहेंगे, AFP की रिपोर्ट्स भी इसकी पुष्टि करती हैं.

हमें कई कीवर्ड सर्च करने पर भी गूगल पर ऐसी कोई रिपोर्ट नहीं मिली जिसमें 2 अगस्त तक ऋषि सुनक के प्रधानमंत्री चयनित हो जाने की बात की गई हो, जैसा कि वायरल पोस्ट में दावा किया गया है.