चेन्नई में आमिर खान की फ़िल्म लाल सिंह चड्ढा के प्रेस मीट की तस्वीर गलत दावे से वायरल

कॉपीराइट AFP 2017-2022. सर्वाधिकार सुरक्षित.

सोशल मीडिया पर एक तस्वीर को हज़ारों बार शेयर करते हुए दावा किया गया है कि यह आमिर खान की हालिया फ़िल्म लाल सिंह चड्ढा के प्रीमियर में दर्शकों की गैर-मौजूदगी को दिखाती है. अगस्त 11 को रिलीज़ हुई लाल सिंह चड्ढा - 1994 की हिट हॉलीवुड फ़िल्म फ़ॉरेस्ट गंप की रीमेक - को भारत में दक्षिणपंथी हिंदू समूहों के बहिष्कार का सामना करना पड़ रहा है. हालांकि ये दावा झूठा है; ये तस्वीर चेन्नई में आमिर खान द्वारा आयोजित एक प्रेस मीटिंग की है.

तस्वीर को फ़ेसबुक पर 9 अगस्त को पोस्ट किया गया है जहां इसे 110,00 से भी अधिक बार शेयर किया गया है. 

तस्वीर में आमिर खान साथी कलाकारों के साथ अग्रिम पंक्ति की कुर्सियों पर बैठे नज़र आ रहे हैें जबकि उनके पीछे की कई कुर्सियां खाली दिख रही हैं. 

पोस्ट के कैप्शन में लिखा है, “लाल सिंह चड्ढा के प्रीमियर में आमिर खान के बुलावे पर, आमिर खान के खुद थिएटर में होने के बावजूद भी थिएटर खाली रहा. हम फिल्म फ्लॉप करवा रहे थे इधर तो प्रीमियर ही फ्लॉप साबित हो गया.”

गलत दावे से शेयर की जा रही पोस्ट का स्क्रीनशॉट, 12 अगस्त 2022.

ज्ञात हो कि साल 2015 में देश में सांप्रदायिकता के सवाल पर आमिर खान द्वारा दिये गये कथित विवादित बयान के बाद ही उनकी फ़िल्मों का दक्षिणपंथी समूहों द्वारा बहिष्कार किया जाता रहा है. इस बार भी काफ़ी दिनों से फ़िल्म के बहिष्कार की मुहिम चल रही है. 

एक यूज़र ने कमेंट में लिखा, “इसकी ये फिल्म तो पिट ही गई भगवान करे इसकी आने वाली फिल्मों का भी यही हाल हो.”

तस्वीर को इसी दावे के साथ फ़ेसबुक पर यहां, यहां और ट्विटर पर यहां शेयर किया गया है. 

हालांकि ये दावा गलत है. 

प्रेस मीटिंग की तस्वीर 

आमिर खान की फ़िल्म लाल सिंह चड्ढा के लिए मुंबई और हैदराबाद में अलग-अलग प्रीमियर आयोजित किए गए थे. हिंदुस्तान टाइम्स ने मुंबई में प्रीमियर को "स्टार-स्टडेड" इवेंट बताया, जिसमें बालीवुड की कई नामचीन हस्तियों ने भाग लिया था.

इवेंट में मौजूद पत्रकारों द्वारा सोशल मीडिया पोस्ट्स में फ़िल्मी सितारे रेड कार्पेट इवेंट में तस्वीरों के लिए खड़े दिख रहे हैं.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक हैदराबाद में आयोजित प्रीमियर में स्थानीय तेलुगु फ़िल्म सितारों ने भी भाग लिया.

गूगल पर रिवर्स इमेज सर्च से पता चला कि भ्रामक पोस्ट में प्रयोग की गई तस्वीर टीम आमिर खान नाम के फ़ेसबुक पेज पर 7 अगस्त को पब्लिश एक पोस्ट से ली गई थी. तस्वीर को फ़िल्म की आधिकारिक रिलीज़ से तीन दिन पहले पोस्ट किया गया था.

फ़ेसबुक पोस्ट के साथ कैप्शन में लिखा है कि ये तस्वीर चेन्नई में आमिर खान द्वारा आयोजित एक प्रेस मीटिंग की है. प्रेस मीट में फ़िल्म के अन्य सितारों ने भी शिरकत की थी.

कैप्शन में लिखा है: "अक्कीनेनी नागा चैतन्य उदयनिधि स्टालिन #MonaSingh और #AamirKhan #LaalSinghChaddha चेन्नई प्रेस मीट में मंच पर. 3 डेज़ टू गो."

नीचे गलत दावे से शेयर की जा रही पोस्ट (बाएं) और टीम आमिर खान फ़ेसबुक पेज (दाएं) द्वारा शेयर की गई तस्वीरों के स्क्रीनशॉट के बीच तुलना है.


मीडिया रिपोर्ट्स में यहां, यहां और यहां 7 अगस्त, 2022 को इस कार्यक्रम को कवर किया गया था, जिसमें आमिर खान और उनके साथी कलाकारों को बिल्कुल वैसे ही कपड़े पहने, एक ही तरह बैठे हुए दिखाया गया है.

एक रिपोर्ट की हेडलाइन में लिखा है: "आमिर खान की लाल सिंह की चड्ढा प्रेस मीट की तस्वीरें."