स्थानीय दंगल में कुश्ती कर रहे पहलवान का वीडियो बजरंग पुनिया बताकर वायरल

कॉपीराइट AFP 2017-2022. सर्वाधिकार सुरक्षित.

सोशल मीडिया पर एक वीडियो कई बार शेयर किया गया है जिसमें दावा किया जा रहा है कि यह ओलंपिक पदक विजेता पहलवान बजरंग पुनिया को एक स्थानीय दंगल में कुश्ती करते दिखाता है. हालांकि यह दावा गलत है; यह वीडियो वास्तव में 2020 में एक स्थानीय कुश्ती मैच में एक अन्य पहलवान मौसम अली को दिखाता है. AFP से बात करते हुए मौसम अली ने बताया कि वीडियो में वो हैं, ना कि बजरंग पुनिया.

वीडियो को फ़ेसबुक पर 7 सितंबर 2022 को शेयर किया गया है जहां इसे 700 से भी अधिक बार देखा जा चुका है. 

पोस्ट के अंग्रेज़ी कैप्शन का अनुवाद है, “पहलवानी में हमारे सर्वकालिक रत्न बजरंग पुनिया का कौशल देखिये."

21 सेकंड के वीडियो में हज़ारों दर्शकों से भरे दंगल के एक मैदान में दो पहलवान एक-दूसरे से कुश्ती करते हुए दिखाई दे रहे हैं.

काले रंग के शॉर्ट्स में एक पहलवान तेज़ी से अपने प्रतिद्वंद्वी को कई बार फ़्लिप करता है और पटखनी देता है, जिससे दूसरा पहलवान स्पष्ट रूप से विचलित हो जाता है और लड़ने से इंकार करता है.

गलत दावे से शेयर की जा रही पोस्ट का स्क्रीनशॉट, 8 सितंबर 2022.

वीडियो को इसी दावे के साथ फ़ेसबुक पर यहां, यहां और ट्विटर पर यहां शेयर किया गया है जहां इसे सैकड़ों बार देखा जा चुका है. 

हालांकि ये दावा गलत है. यह वीडियो पंजाब के एक अन्य स्थानीय पहलवान मौसम अली का है. 

पोस्ट के कमेंट्स के आधार पर रिवर्स इमेज और कीवर्ड सर्च से हमने पाया कि यह वीडियो पहलवान बजरंग पुनिया का नहीं है. इसे 2020 से ही यहां और यहां फ़ेसबुक पर और यूट्यूब पर यहां शेयर किया गया है.

उल्लेखनीय है कि इनमें से किसी भी पोस्ट में बजरंग पुनिया का ज़िक्र तक नहीं है.

की-वर्ड्स की मदद से यूट्यूब में खोजने पर हमें 6 जनवरी, 2020 को एक इंटरटेनमेंट चैनल पर अपलोड किए गए इस वीडियो का लंबा संस्करण मिला.

वीडियो के डिसक्रिप्शन में लिखा है; “Mosam Ali new kushti 2020,मौसम ने मचाई धूम,पब्लिक में मचा कोहराम,mosam Ali vs kallu,mosam vs gulla.”

नीचे गलत दावे से शेयर की जा रही पोस्ट (बाएं) और यूट्यूब पर अपलोड किए गए वीडियो (दायें) के स्क्रीनशॉट  की तुलना दी गई है.

मौसम अली ने अपने आधिकारिक यूट्यूब चैनल में भी इसी तरह के कई फ्रीस्टाइल कुश्ती वीडियो अपलोड किये हैं, हालांकि उन्होंने वायरल वीडियो के ऑरिजनल हिस्से को अपलोड नहीं किया.

मौसम अली ने वायरल दावे का खंडन करते हुए  AFP को बताया कि यह 2020 में रिकॉर्ड किया गया उनका वीडियो है और यह मैच मलेरकोटला में आयोजित किया गया था.

उन्होने कहा, "यह 2020 का मेरा कुश्ती का वीडियो है जिसमें मैंने सामने वाले पहलवान को बुरी तरह हराया था. आपको मेरी कुश्ती के ऐसे कई वीडियो इंटरनेट पर मिल जाएंगे. यहां पंजाब और हरियाणा में स्थानीय स्तर पर इस तरह की कुश्ती का आयोजन किया जाता है."

बजरंग पुनिया के भाई हरेंद्र खुदन ने AFP को बताया कि ये दावा गलत है, वीडियो में बजरंग पुनिया नहीं हैं.

नीचे वायरल वीडियो में दिख रहे पहलवान मौसम अली (बाएं) और उनके सोशल मीडिया पर शेयर की गयी तस्वीर (दाएं) की एक तुलना है: