राहुल गाँधी की भारत जोड़ो यात्रा में लहराए गए पाकिस्तान के झंडे?

कॉपीराइट AFP 2017-2022. सर्वाधिकार सुरक्षित.

सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो के साथ दावा किया जा रहा है कि कांग्रेस नेता राहुल गाँधी के भारत जोड़ो यात्रा के दौरान एक रैली में पाकिस्तान के झंडे लहराए गए. ये दावा गलत है. वायरल वीडियो में दिख रहे झंडे इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग (IUML) के हैं ना कि पाकिस्तान के. IUML के एक नेता ने भी AFP से इस बात की पुष्टि की है.

वीडियो को फ़ेसबुक पर यहां अक्टूबर 2, 2022 को शेयर किया गया और तक़रीबन 4300 बार देखा गया है.

वीडियो में एक बच्चे को हरे रंग का झंडा लहराते देखा जा सकता है. उसके पीछे चल रही भीड़ के हाथों में भी वैसे ही झंडे दिखाई दे रहे हैं.

वीडियो की गति धीमी की गयी है और इसे एडिट करके एक गाना अलग से जोड़ा गया है.

सोशल मीडिया पोस्ट पर वीडियो के साथ दिये कैप्शन में लिखा गया है 'राहुल गांधी की “भारत जोड़ो यात्रा” में पाकिस्तान का झंडा - ये तो “भारत तोड़ो यात्रा” हो गई - हिंदू कांग्रेस का बायकाट करें'.

भारत जोड़ो यात्रा राहुल गाँधी द्वारा सितम्बर महीने में शुरू की गयी थी.

भ्रामक पोस्ट का अक्टूबर 7, 2022 को लिया गया स्क्रीनशॉट

ऐसे ही दावों के साथ ये वीडियो फ़ेसबुक पर यहां, यहां और ट्विटर पर यहां और यहां शेयर की गयी है.

हालांकि ये दावे फ़र्ज़ी है. वायरल वीडियो में दिख रहे झंडे पाकिस्तान के राष्ट्रीय ध्वज नहीं बल्कि केरला के इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग पार्टी के झंडे हैं.

IUML पार्टी के झंडे

वायरल वीडियो में लोगों के हाथ में दिख रहे बैनर पर ये शब्द अंग्रेजी में लिखे हैं "Rahul Ji, leader of democratic India, welcome to Palakkad" and "IUML Pattambi mandalam committee".

पट्टाम्बी केरला के पलक्कड़ ज़िले में स्थित एक क़स्बा है. IUML केरला की एक राजनैतिक पार्टी है.

वायरल वीडियो में दिख रहे झंडे IUML के पार्टी फ़्लैग से मेल खाते हैं. नीचे IUML के फ़ेसबुक पेज से ली गयी पार्टी के झंडे की तस्वीर देखें:

IUML पार्टी के झंडे की तस्वीर

IUML के झंडे और पाकिस्तान के राष्ट्रीय ध्वज में कुछ अंतर हैं. IUML के झंडे में पाकिस्तानी ध्वज की तरह सफ़ेद पट्टी नहीं होती. IUML के झंडे में दिख रहे चाँद और तारे आकार में छोटे हैं और ऊपरी बाएं कोने में नज़र आते हैं.

नीचे वायरल पोस्ट में दिख रहे IUML के झंडे (बाएं) और AFP द्वारा खींची गयी पाकिस्तानी राष्ट्रीय ध्वज के तस्वीर (दाएं ) के बीच तुलना की गयी है:

भ्रामक पोस्ट में दिख रहे IUML के झंडे (बाएं) और पाकिस्तान के राष्ट्रीय ध्वज (दाएं) के बीच तुलना

फ़ेसबुक पर कीवर्ड सर्च करने पर हमें यही वीडियो मुस्लिम युथ लीग गुरुवायुर के पेज पर सितम्बर 26 को अपलोड की हुई मिली. मुस्लिम युथ लीग IUML की युवा मोर्चा है.

वीडियो के साथ किये गए मलयालम पोस्ट का हिंदी अनुवाद है, "पट्टाम्बी में मुस्लिम लीग भारतीय हीरो राहुल गाँधी के स्वागत के लिए राहुल गाँधी भारत जोड़ो यात्रा."

मन्नारक्कड के एम.एल.ए एन समसुद्दीन ने AFP को बताया कि वायरल वीडियो में दिख रहे झंडे IUML पार्टी के झंडे हैं.

"ये इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग के झंडे हैं, जो कि एक रजिस्टर्ड पार्टी है. ये रैली मेन रोड शोरनूर से पट्टाम्बी तक निकाली गयी थी," समसुद्दीन ने AFP को बताया.

टाइम्स ऑफ़ इंडिया में छपे एक रिपोर्ट के अनुसार राहुल गाँधी के साथ कई कांग्रेस समर्थक केरला के पलक्कड़ ज़िले से उनकी भारत यात्रा से सितम्बर 26 को जुड़े थे.

रिपोर्ट में आगे लिखा गया है कि यात्रा अपने उन्नीसवे दिन में पट्टाम्बी में रुकेगी.