भारत के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी 28 जनवरी, 2022 को नई दिल्ली में पीएम की एनसीसी रैली में भाग लेते हुए ( AFP / Prakash SINGH)

प्रधानमंत्री मोदी के भाषण का पुराना वीडियो हालिया गोवा चुनाव का बता वायरल

कॉपीराइट AFP 2017-2022. सर्वाधिकार सुरक्षित.
 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के भाषण का एक वीडियो क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल है जिसे अब तक 5 लाख बार फ़ेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर की कई पोस्ट में देखा जा चुका है. वीडियो में मोदी, मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस के ऊपर भ्रष्टाचार का आरोप लगा रहे हैं. इसे शेयर कर दावा किया जा रहा है कि ये वीडियो 2022 में गोवा के विधानसभा चुनाव के दौरान लिया गया था. दावा ग़लत है; नरेन्द्र मोदी का ये भाषण नवंबर 2016 का है. 

एक फ़ेसबुक पोस्ट को यहां 19 जनवरी 2022 को शेयर करते हुए कैप्शन में लिखा है: "आज गोवा में प्रधानमंत्री मोदी की स्पीच सुनकर सभी कांग्रेसी नेता घबराये."

"3 मिनट का वीडियो है कृपया अवश्य देखें. मोदी ने कहा मैं जानता हूँ कि मैंने कैसे कैसे लोगों से दुश्मनी ली है पर मुझे कोई फ़िक्र नहीं है, मैं भ्रष्टाचारियों को खोद कर निकाल लूँगा."

इस 3 मिनट की वीडियो क्लिप को यहां फ़ेसबुक पर 19 जनवरी 2022 को शेयर किया गया है जहां इसे अब तक 540,000 बार से अधिक देखा जा चुका है. 

वीडियो में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी लोगों से कह रहे हैं: "इस देश में भ्रष्टाचार और बेईमानी को ख़त्म करना है. देश की आज़ादी के बाद से जितने भ्रष्टाचारी हुए हैं मैं सबका पर्दाफ़ाश करूँगा. जिन लोगों ने भी भ्रष्टाचार से पैसा कमाया है अब वो पैसा काग़ज़ का टुकड़ा हो जायेगा."

ये वीडियो इसी दावे के साथ फ़ेसबुक पर यहां और यहां, ट्विटर पर यहां, यहां साथ ही यूट्यूब पर भी यहां और यहां शेयर किया गया है. 

भ्रामक दावे का स्क्रीनशॉट ( Uzair RIZVI)

हालांकि दावा ग़लत है.

कुछ कीवर्ड्स के साथ वीडियो को कीफ्रेम को रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें इस वीडियो का लंबा हिस्सा मिला जिसे 13 नवंबर 2016 को भाजपा के आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर अपलोड किया गया था. 

लगभग एक घंटे के इस वीडियो के साथ कैप्शन में लिखा है: "गोवा में विभिन्न परियोजनाओं की घोषणा प्रधानमंत्री का भाषण: 13-11-2016."

भ्रामक वीडियो के रूप में जो हिस्सा वायरल है वो ऑरिजनल वीडियो में 59:23 के टाइमस्टैंप पर देखा जा सकता है. 

ये वीडियो नरेन्द्र मोदी के यूट्यूब चैनल पर भी 13 नवंबर 2016 को अपलोड किया गया था.

नीचे भ्रामक पोस्ट (बायें) और भाजपा के आधिकारिक यूट्यूब चैनल के वीडियो (दायें) के स्क्रीनशॉट के बीच एक तुलना है.

भ्रामक पोस्ट (बायें) और भाजपा के आधिकारिक यूट्यूब चैनल के वीडियो (दायें) के स्क्रीनशॉट के बीच एक तुलना

नवंबर 2016 में गोवा में अपने दौरे के दौरान मोदी ने 100 और 500 रुपये के नोटों की नोटबंदी पर चर्चा की थी. ज्ञात हो कि 8 नवंबर 2016 को प्रधानमंत्री ने भ्रष्टाचार को ख़त्म करके और काला धन पर लगाम लगाने के लिये नोटबंदी की घोषणा की थी.

( Uzair RIZVI)