रूस और यूक्रेन का झंडा ओढ़े प्रेमी जोड़े की तस्वीर ग़लत दावे से वायरल

कॉपीराइट AFP 2017-2022. सर्वाधिकार सुरक्षित.

रूसी और यूक्रेनी झंडों में लिपटे हुए एक युवक और युविका की तस्वीर को सोशल मीडिया पर इस दावे के साथ शेयर किया जा रहा है कि ये रूस के यूक्रेन पर युद्ध घोषणा के बाद लिया गया है. हालांकि ये दावा भ्रामक है: ये तस्वीर 2019 में पोलैंड में आयोजित एक संगीत समारोह में ली गयी थी जब एक प्रेमी प्रेमिका अपने देशों का झंडा ओर एक दुसरे को गले लगा रहे थे.

तस्वीर को ट्विटर पर यहां 25 फरवरी, 2022 को शेयर किया गया था. पोस्ट के कैप्शन में लिखा है, "यूक्रेन का झंडा लपेटे पुरुष और रूस का ध्वज ओढ़े उसकी महिला मित्र कह रही है कि युद्ध भी प्रेम को दूर नहीं कर सकता."

भ्रामक पोस्ट का स्क्रीनशॉट ( Uzair RIZVI)

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन द्वारा यूक्रेन पर आक्रमण करने की घोषणा के तुरंत बाद ही ये पोस्ट ऑनलाइन शेयर होने लगा.

AFP की रिपोर्ट के अनुसार इस संघर्ष में दर्जनों बच्चों सहित हजारों नागरिक मारे गए हैं और एक करोड़ से अधिक लोग विस्थापित हुए हैं.

इस तस्वीर को यूक्रेन युद्ध से जोड़ यहां और यहां फ़ेसबुक पर और यहां ट्विटर पर शेयर किया गया.

हालांकि, तस्वीर को भ्रामक संदर्भ में शेयर किया गया है.

संगीत कार्यक्रम की तस्वीर

TinEye सर्च इंजन से रिवर्स इमेज सर्च करने पर 4 दिसंबर, 2019, को अमेरिकी अखबार द वाशिंगटन पोस्ट की वेबसाइट पर ये तस्वीर यहां प्रकाशित मिली.

रिपोर्ट के मुताबिक, फोटो में एक रूसी महिला जुलियाना कुजनेत्सोवा अपने यूक्रेनी मंगेतर के साथ दिखाई दे रही है.

इस तस्वीर को 27 नवंबर, 2019 को बेलारूस की रैपर मैक्स कोरज़ के लिए पोलैंड की राजधानी वारसॉ में आयोजित एक संगीत कार्यक्रम में लिया गया था.

नीचे भ्रामक पोस्ट (बायें) और द वाशिंगटन पोस्ट की तस्वीर (दायें) के स्क्रीनशॉट के बीच एक तुलना है.

भ्रामक पोस्ट (बायें) और द वाशिंगटन पोस्ट की तस्वीर (दायें) के स्क्रीनशॉट के बीच एक तुलना ( Uzair RIZVI)

इस तस्वीर को यहां 29 नवंबर, 2019 को मैक्स कोरज़ के इंस्टाग्राम फैन अकाउंट पर भी शेयर किया गया है.

यूक्रेन पर रूस के हमले के बाद से ही सोशल मीडिया पर ग़लत और भ्रामक सूचनाओं की बाढ़ सी आ गई है. इनसे जुड़े AFP के फ़ैक्ट-चेक यहां पढ़ें.

( Uzair RIZVI)
अनुवाद और अनुकूलन:
यूक्रेन संघर्ष